13 जुलाई से श्री लंका और भारत के बीच 3 मैचों की वनडे सीरीज की शुरुआत होने जा रही है। उसके बाद 21 तारीख से 3 मैचों की t20 सीरीज की शुरुआत होगी। भारत की मुख्य टीम इंग्लैंड में है इसी वजह से श्री लंका दौरे के लिए दूसरी युवा भारतीय टीम को भेजा गया है। इस टीम की कमान बाएं हाथ के शिखर धवन को दी गई है वहीं तेज गेंदबाज को उपकप्तान नियुक्त किया गया है।

बतौर कोच इस टीम का मार्गदर्शन करने का मौका पूर्व क्रिकेटर राहुल द्रविड़ को दिया गया है जो भारतीय अंडर 19 टीम के भी कोच हैं। एक तरह से उसे भारत की B टीम कहा जा सकता है जो श्री लंका की मुख्य टीम के खिलाफ खेलने जाएगी। इसे लेकर श्री लंका पूर्व कप्तान अर्जुन रणतुंगा ने श्री लंकन क्रिकेट बोर्ड और प्रशासन की आलोचना की है।

1996 के वर्ल्ड कप में विजई सिर लंकन टीम के कप्तान रहे रणतुंगा का कहना है कि दूसरी श्रेणी की भारतीय टीम की मेजबानी करना अपमानजनक है। उन्होंने कहा – ‘यह दूसरी श्रेणी की भारतीय टीम है और उनका यहां आना हमारी क्रिकेट का अपमान है. मैं टेलीविजन मार्केटिंग की जरूरतों को पूरा करने के लिए उनके साथ खेलने पर सहमत होने के लिए वर्तमान प्रशासन को जिम्मेदार मानता हूं।’

उन्होंने आगे कहा – ‘भारत ने अपनी सर्वश्रेष्ठ टीम इंग्लैंड भेजी है और कमजोर टीम यहां भेज दी है। मैं इसके लिए बोर्ड को दोष देता हूं।’

Previous articleड्रोन के उपयोग नियम में होगा बदलाव,वायु सेना स्टेशन पर हुए हमले को देखते हुए लिया गया फैसला
Next articleनए आईटी नियमों के तहत कू ने भारत सरकार को सौंपी अपनी रिपोर्ट