डोमिनिका में जमानत मिलने के बाद भगोड़े हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी ने भारतीय एजेंसियों पर गंभीर आरोप लगाए हैं। अपने वकील के जरिए इंडिया टीवी को भेजे एक वॉइस मैसेज में चोकसी ने भारतीय एजेंसियों पर उसे किडनैप करने का आरोप लगाया है। वॉइस मैसेज में चोकसी ने कहा कि “मैं ये सोच भी नहीं सकते कि भारतीय एजेंसियों द्वारा मेरा सारा कारोबार बंद कर दिया जाएगा साथ ही मेरी संपत्तियां जब्त कर ली जाएगा या मेरे अपहरण का भी प्रयास किया जाएगा।”

इससे पहले डोमिनिका हाई कोर्ट ने इसी हफ्ते सोमवार को मेहुल चोकसी की अपील को स्वीकार करत हुए उसे एंटीगुआ जाने की इजाजत दे दी थी। कोर्ट ने उसकी सेहत को ध्यान में रखते हुए उन्हें एंटीगुआ जाने की इजाजत दी थी। बता दें, डोमनिका में गैरकानूनी तरीके से प्रवेश के आरोप में वह 51 दिन तक वहां पर हिरासत में था।

अभिनेत्री सुरेखा सीकरी का 75 की उम्र में हार्ट अटैक से हुआ निधन

पंजाब नेशनल बैंक घोटाले का भगोड़ा आरोपी मेहुल चौकसी अब भारत लौटने की बात कर रहा है। चोकसी ने अपने बयान में कहा कि मैं भारत में खुद को बेगुनाह साबित करना चाहता हूं। पीएनबी के 13,500 करोड़ रू लेकर भागा आरोपी कह रहा है वो तो कब से भारत लौटकर अपनी बेगुनाही साबित करने के बारे में सोच रहा है। लेकिन इस बयान के साथ चोकसी ने भारतीय एजेंसियों पर गंभीर आरोप भी लगाए हैं। चोकसी का कहना है कि 51 दिन पहले भारतीए एंजेंसियों ने उसे किडनैप करवाया, इस दौरान उसे टॉर्चर किया गया और अब उसकी मेडिकल कंडीशन बेहद खराब है।

Previous articleजॉर्ज बुश ने अफगानिस्तान से सेना वापसी को बताया गलत
Next articleअफगानिस्तान में कवरेज करने पहुंचे भारतीय पत्रकार की दानिश सिद्दीकी की हत्या