खुद के ‘कल्कि’ अवतार होने का दावा करने वाले गुजरात सरकार के एक पूर्व कर्मचारी रमेशचंद्र फेफर ने जल्द से जल्द ग्रैच्युटी जारी करने की मांग की है। फेफर ने धमकी देते हुए कहा- ग्रैच्युटी का पैसा जल्द से जल्द जारी नहीं किया तो वह अपनी ‘‘दिव्य शक्तियों” से दुनिया में गंभीर सूखा ला देगा। फेफर काम को लेकर लापरवाह थे वे केवल आठ महीने में 16 दिन कार्यालय गए थे जिस वजह से उन्हें सेवानिवृत्ति दे दी गई थी।

अब जल संसाधन विभाग के सचिव को एक जुलाई को लिखे पत्र में फेफर ने कहा कि ‘सरकार में बैठे राक्षस’ उनके 16 लाख ग्रैच्युटी। दूसरी तरफ जल संसाधन विभाग के सचिव एम के जाधव ने कहा, ‘फेफर कार्यालय आए बगैर वेतन की मांग कर रहे हैंटी लेकर बैठे हैं।

दरअसल ‘कल्कि’ होने का दावा करने वाला ये शख्स लंबे समय तक ऑफिस नहीं आया, इसके चलते फेफर को सरकारी सेवा से समय से पहले रिटायर कर दिया गया था। फेफर ने कहा कि उन्हें परेशान किया जा रहा है जिस कारण वह धरती पर भीषण सूखा ला सकते हैं क्योंकि वह भगवान विष्णु के दसवें अवतार हैं जिसने ‘सतयुग’ में शासन किया था।

Previous articleमॉनसून सत्र के दौरान संसद के बाहर प्रदर्शन करेंगे किसान, विपक्ष से कहा- हमारी आवाज उठाइए
Next articleपूर्व मुख्य आर्थिक सलाहकार बोले- मैंने ओबामा से कहा था कि मोदी को ‘सेकुलरिज्म’ याद दिलाएं