स्पूतनिक वैक्सीन के इंतजार में बैठे लोगों के लिए खुशखबरी है। राजधानी में लखनऊ में शनिवार से तीसरी कंपनी की वैक्सीन का विकल्प भी लोगों को मिलेगा। मेदांता अस्पताल में लोग स्पूतनिक-वी वैक्सीन लगवा सकते हैं। यह लखनऊ का पहला अस्पताल है जिसमें स्पुतनिक-वी की सुविधा होगी।

कोरोना की दूसरी लहर के बाद लोग तेजी से वैक्सीन लगवा रहे हैं। सरकारी अस्पतालों में मुफ्त वैक्सीन लगाई जा रही है। जबकि प्राइवेट अस्पताल में शुल्क चुकाने के बाद वैक्सीन लगाई जा रही है। अभी तक को वैक्सीन व कोविशील्ड वैक्सीन लगाई जा रही थी। शनिवार से स्पूतनिक-वी वैक्सीन का विकल्प भी लोग चुन सकेंगे। कोविन पोर्टल के माध्यम से लोग पंजीकरण करा सकते हैं।

मेदांता के निदेशक डॉ. राकेश कपूर के मुताबिक कोरोना मरीजों को यहां बेहतर इलाज मुहैया कराया जा रहा है। टीकाकरण को भी बढ़ावा देने की दिशा में सारे प्रयास किए जा रहे हैं। लगातार टीकाकरण किया जा रहा है। स्पुतनिक-वी वैक्सीन का विकल्प भी लोग चुन सकेंगे। सरकार के तय मानकों के आधार पर 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को यह वैक्सीन लगाई जाएगी।

डॉ. राकेश कपूर के मुताबिक स्पूतनिक की भी दो डोज ही लगाई जाएगी। पहली डोज के 28 दिन पर वैक्सीन की दूसरी डोज दी जाएगी। कोवैक्सीन व कोविशील्ड की भी दो डोज लोग लगवानी पड़ रही है। स्पूतनिक के लिए 1145 रुपये चुकाने होंगे। पहले ही दिन वैक्सीन के सभी स्लॉट भर गए।

डॉ. कपूर ने बताया कि वैक्सीनेशन के लिए लोग https://selfregistration.cowin.gov.in/ पर जाकर मेदांता हॉस्पिटल का विकल्प चुन कर रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। अपने व परिवार के सदस्य का वैक्सीनेशन करवा सकते है। यह सुविधा सोमवार से शनिवार तक सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक उपलब्ध रहेगी।

 

Previous articleयूपी में डेल्टा प्लस का खतरा, सरकार हुई चौकन्नी
Next articleब्रिटेन के स्वास्थ्य मंत्री हैनकॉक का सहकर्मी को किस करते वीडियो हुआ वायरल, लोगों में आक्रोश