भोपाल। मध्य प्रदेश के गुना (Guna) में शिकारियों ने 3 पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी है। जिन पुलिसकर्मियों की हत्या हुई है उसमें SI राजकुमार, सिपाही नीरज भार्गव और हवलदार संतराम मीना शामिल हैं।

घटना के बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Cm Shivraj Singh Chauhan) ने शनिवार सुबह तीनों पुलिस कर्मियों के परिवारों को एक-एक करोड़ रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की है।

सीएम (Cm Shivraj Singh Chauhan)  ने आज सुबह एक आपात बैठक भी बुलाई थी। इस बैठक में गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा, मुख्य सचिव, डीजीपी, एडीजी, पीएस गृह सहित पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी शामिल हुए थे।

सीएम (Cm Shivraj Singh Chauhan) ने की एक-एक करोड़ रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा

जानकारी के मुताबिक शुक्रवार की रात लगभग 12.30 बजे आरोन थाना पुलिस को सूचना मिली थी कि शहरोक गांव की पुलिया से आगे मौनवाड़ा के जंगल में शिकारियों ने काले हिरण और मोर का शिकार किया है।जिस पर थाने से SI राजकुमार जाटव, प्रधान आरक्षक नीरज भार्गव और आरक्षक संतराम मीना सहित सात लोग जंगल की ओर रवाना हुए।

शिकारियों ने SI समेत तीन पुलिसकर्मियों को बनाया अपना शिकार, गोलियों से भूनकर की हत्या

इस दौरान पुलिस (Madhya Pradesh Police) ने चार मोटरसाइकिल से आए दो-तीन शिकारियों को पकड़ लिया, लेकिन तभी पीछे से आए शिकारियों के अन्य साथियों ने फायरिंग शुरू कर दी। इसमें तीन पुलिसकर्मियों की गोली लगने से मौके पर ही मौत हो गई। वहीं तीन सिपाही घायल हुए हैं जिन्हे अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है।

मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने घटना पर दुख जताते हुए कहा है कि ‘कुछ बदमाशों की सूचना पुलिस को मिली थी। बदमाशों ने अपने आप को चारों तरफ से घिरा देखकर फायरिंग शुरू कर दी। हमारे एक SI, एक हेड कांस्टेबल और एक कांस्टेबल शहीद हो गए। सुबह से ही मैं संपर्क में हूं।’

गृह मंत्री ने कहा है कि ‘लगातार बदमाशों की घेराबंदी की जा रही है। हम जल्द उन्हें पकड़ लेंगे। इन बदमाशों पर सख़्त से सख़्त कार्रवाई होगी… 5 हिरणों के सिर मिले हैं, 2 हिरणों की बॉडी मिली है, मोर का भी शव मिला है। यहीं से शिकारियों की तरफ ध्यान जाता है।’

राजीव कुमार होंगे देश के नए चीफ इलेक्शन कमिश्नर, 15 मई को संभालेंगे कार्यभार

Previous articleराष्ट्रपति कोविंद ने दिल्ली हाईकोर्ट में की नौ जजों की नियुक्ति की
Next articleज्ञानवापी मस्जिद: चौथे तहखाने तक पहुंची टीम, कल भी होगा सर्वे